महिलाओं में फर्टिलिटी (Fertility) और एज फैक्टर एक- दूसरे को को-रिलेट करते हैं। यही वजह है कि बढ़ती उम्र के साथ-साथ महिलाओं में फर्टिलिटी कम हो जाती है।

धूम्रपान करना आपकी सेहत के लिए काफी हानिकारक है। यदि आप गर्भवती होना चाहती हैं, तो धूम्रपान को जल्द से जल्द छोड़ दें। दरअसल, धूम्रपान का प्रभाव  आपके विकासशील भ्रूण पर पड़ सकता है। धूम्रपान के साथ-साथ ई-सिगरेट और वेपिंग का भी त्याग करें

धूम्रपान की आदत छोड़ें 

ऑक्सफोर्ड एकेडमी के लिए की गई एक स्टडी में सामने आया कि हफ्ते में एक बार हाई फैट डेयरी प्रोडक्ट्स का सेवन करने से महिलाओं में 27% इनफर्टिलिटी की संभावनाएं कम हो जाती है।

आहार में हाई फैट डेयरी प्रोडक्ट्स शामिल करें 

 हेल्दी रहेंगे तो फर्टिलिटी की संभावना उतनी ही बढ़ जाएगी। इससे शरीर में ऊर्जा संतुलन बदल सकता है। जिसका प्रजनन तंत्र पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है।

मोटापा नियंत्रित करें  

नींद का भी फर्टिलिटी पर भारी प्रभाव पड़ता है। जब हम कम नींद लेते हैं तो हार्मोन्स के स्तर में मूलभूत परिवर्तन होता है। इससे इनफर्टिलिटी की संभावनाएं बढ़ जाती है। ऐसे में अच्छी नींद लेना बेहद आवश्यक है।

अच्छी नींद लेनी चाहिए

लिए अपने आहार में फलों, सब्जियों, नट्सस और अनाजों जैसे खाद्य पदार्थों को शामिल करें। दरअसल, इनमें विटामिन-सी, विटामिन-ई, फोलेट, बीटा कैरोटीन और ल्यूटिन जैसे फायदेमंद एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं।

एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर फूड्स खाएं 

एंटीऑक्सीडेंट्स फूड्स महिलाओं और पुरुष दोनों में प्रजनन क्षमता को बढ़ा सकते हैं। 

एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर फूड्स खाएं 

खुश रहे हमेशा  अच्छा खाये और अच्छी निद ले रोजाना मोबाइल का इस्तेमाल अपने दैनिक जीवन मे थोड़ा कम करे

खुश रहने की कोशिस करे