Tuesday, May 28, 2024
HomeHealthRajasthan Dengue: में डेंगू-मलेरिया का कहर, 6300 एक्टिव केस, 6 मौतें

Rajasthan Dengue: में डेंगू-मलेरिया का कहर, 6300 एक्टिव केस, 6 मौतें

राजस्थान में डेंगू-मलेरिया के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। राज्य के स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार, 25 अक्टूबर 2023 तक डेंगू के 6300 और मलेरिया के 1543 मामले सामने आए हैं। अब तक डेंगू से 6 और मलेरिया से 3 मौतें हो चुकी हैं।

Highlights:-

  • राजस्थान में डेंगू-मलेरिया के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी
  • अब तक 6300 एक्टिव केस, 6 मौतें
  • सबसे ज्यादा मरीज वाले जिले हैं कोटा, जयपुर और जोधपुर
  • राज्य सरकार ने नियंत्रण के लिए उठाए कदम
  • लोगों से सतर्क रहने और बचाव के उपाय करने की अपील

क्या है पूरी खबर:-

राजस्थान में डेंगू-मलेरिया के मामलों में लगातार वृद्धि हो रही है। अब तक 6 लोगों की मौत हो चुकी है और 6300 एक्टिव केस हैं। राज्य के सबसे ज्यादा मरीजो वाले जिलों में जयपुर, जोधपुर, कोटा और उदयपुर शामिल हैं।

सरकार द्वारा मच्छर जनित बीमारियों को रोकने के लिए कई कदम उठाए जा रहे हैं, जैसे कि फॉगिंग, लार्वा रोधी गतिविधियां और लोगों को जागरूक करना। हालांकि, अभी भी स्थिति गंभीर है।

लोगों से अपील की गई है कि वे मच्छरों से बचाव के उपाय करें, जैसे कि पूरे शरीर को ढकने वाले कपड़े पहनें, मच्छरदानी का यूज़ करें और मच्छर भगाने वाली क्रीम लगाएं। अगर किसी को बुखार, सिरदर्द, मांसपेशियों में दर्द या जोड़ों में दर्द हो तो उसे तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

डेंगू और मलेरिया दोनों ही गंभीर बीमारियां हैं और अगर समय पर इलाज नहीं किया जाए तो जानलेवा हो सकती हैं। इसलिए, यह जरूरी है कि लोग मच्छरों से बचाव के उपाय करें और बीमार होने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

डेंगू मलेरिया क्या है?

डेंगू और मलेरिया दो जानलेवा बीमारियां हैं जो मच्छरों के काटने से फैलती हैं। ये बीमारियां बारिश के मौसम में अधिक होती हैं। डेंगू और मलेरिया के लक्षण काफी मिलते-जुलते हैं, इसलिए इनका समय पर इलाज बहुत जरूरी है।

डेंगू एक वायरल इन्फेक्शन है जो एडीज, एजिप्टी मच्छर के काटने से फैलता है। इस मच्छर को आमतौर पर एडीज मच्छर के नाम से जाना जाता है। एडीज मच्छर दिन में काटते हैं। डेंगू के लक्षण आमतौर पर मच्छर के काटने के 4 से 10 दिनों के बाद दिखाई देते हैं।

डेंगू के लक्षण क्या है?

  • तेज बुखार
  • सरदर्द
  • मांसपेशियों और जोड़ों में दर्द
  • उल्टी और मतली
  • चकत्ते
  • आंखों के पीछे दर्द
  • गले में खराश

मलेरिया क्या है?

मलेरिया एक पैरासाइट इन्फेक्शन है जो एनोफिलीज मच्छर के काटने से फैलता है। इस मच्छर को आमतौर पर एनोफिलीज मच्छर के नाम से जाना जाता है। एनोफिलीज मच्छर रात में काटते हैं। मलेरिया के लक्षण आमतौर पर मच्छर के काटने के 10 से 15 दिनों के बाद दिखाई देते हैं।

मलेरिया के लक्षण क्या है?

  • तेज बुखार
  • ठंड लगना
  • सरदर्द
  • मांसपेशियों में दर्द
  • थकान
  • उल्टी और मतली
  • दस्त
  • भूख न लगना

डेंगू और मलेरिया का इलाज दवाओं से किया जाता है। डेंगू का कोई खास इलाज नहीं है, लेकिन लक्षणों को कम करने के लिए दवाएं दी जा सकती हैं। मलेरिया का इलाज एंटी-मलेरियल दवाओं से किया जाता है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments

महीने भर में 4 इंच तक कम हो जाएगा पेट लड़के भी अपनाएं,चेहरे पर चमक ले आएंगे ये ब्यूटी टिप्स, क्या आप भी हैं नींद न आने की समस्या से बहुत ज्यादा परेशान है? आजमाये ये घरेलू नुस्खे रात मै सोने से पहले विटामिन -E कैप्सूल चेहरे पर लगाने के बहुत फायदे है न शुगर की दवाएं, न डाइट प्लान, बस रोजाना ये 10 काम करें डायबिटीज (Blood Sugar) कंट्रोल रहेगा दांतों का पीलापन करता है शर्मिंदा? मिनटों में मोती की तरह चमकेंगे दांत बवासीर के प्रकार (Types of piles) बवासीर के लिए घरेलू इलाज अपनाए और आराम पाये